Story Motivational In Hindi रिस्क ही सफलता

Story Motivational In Hindi

Story Motivational In Hindi-   एक गांव में एक गुफा था। जहां गांव का प्रत्येक व्यक्ति जाने से डरता था क्योंकि आज तक जो भी व्यक्ति उस गुफा में गया था वह वापस लौट कर नहीं आया था। करीब 100 से ज्यादा व्यक्ति उस गुफा में गए थे और जाने के बाद लौट कर वापस नहीं आए थे।

एक बार की बात है उस गांव में एक युवा आया। और उस गुफा के बारे में सुना। उसने सुना उस गुफा में जो भी जाता है वह आज तक वापस लौट कर नहीं आया। यह सुन उसके मन में काफी उत्सुकता थी की आज के इस आधुनिक जमाने में यह कैसे संभव है। यह बात उस युवा को बहुत अधिक परेशान करने लगा। जिससे युवा ने उस गुफा के सच्चाई जानने के लिए गुफा में जाने का निर्णय लिया।

युवा ने गांव वालों को बताई की मैं अगले दिन उस गुफा में उसकी सच्चाई पता करने के लिए जाऊंगा। यह सुन गांव के सभी बड़े बुजुर्ग लोग उसे डराने लगे।  उस युवा को उस गुफा में जाने से रोकने लगे और कहते कि आज तक उस गुफा में जो भी गया है वह लौट कर वापस नहीं आया। तुम भी जाने के बाद नहीं आ पाओगे। तुम मत जाओ। लेकिन वह युवा सकारात्मक विचार का था। वह उन गांव वालों के बातों में नहीं फंसा और अगले दिन गुफा की तरफ चल दिया।

Motivational Short Story In Hindi

धीरे-धीरे वह गुफा के पास पहुंचने लगा। गांव वालों की बातें सुनक्रर उसे भी थोड़ा डर लग रहा था फिर भी आगे बढ़ता गया। जैसे ही वह गुफा में पहुंचा वहां पर बहुत ही अंधेरा था। उस जगह को देखकर उसे डर लगने लगा। लेकिन फिर भी वह रुका नहीं और आगे बढ़ता चला गया। जैसे-जैसे वह आगे बढ़ता चला उसे लगा की उसका कोई पीछा कर रहा है फिर भी आगे बढ़ता रहा। जैसे-जैसे आगे बढ़ा उसे पीछे की तरफ से तेज का धक्का पड़ा और वह आगे की तरफ गिर पड़ा। और बेहोश हो गया।  सफलता से कुछ कदम पहले

कुछ समय बाद जब उसकी आंखें खुली तो उसने देखा की उस जगह पर समृद्धि ही समृद्धि छाई पड़ी है। चारों तरफ धन दौलत व खुशहाली के सभी वस्तुएं मौजूद थे। और उसके आसपास कुछ लोग मौजूद थे। यह देखकर वह आश्चर्यचकित हो गया। यह वही लोग थे जो गांव से गुफा की तरफ पहले आए थे। उसने वहां मौजूद लोगों से पूछा क्या हुआ। मैं यहां कैसे आया।

उन व्यक्तियों ने उसे बताया की जब हम पहली बार यहां पर आए थे तो हमने इस समृद्धि को देखा और यहीं पर हम रुक गए लेकिन हम यहां किसी और को आने नहीं देते हैं। क्योंकि अगर लोग यहां बढ़ते गए तो हमें समस्या होने लगेगी। और जो भी व्यक्ति यहां आता है हम उसे डराकर भगाने की कोशिश करते हैं।  और यदि वो नहीं भागता तो हम उसे खींचकर अंदर लाते है। हमने तुम्हे भी डराने की कोशिस की लेकिन तुम नहीं डरे और तुम्हे यहाँ लाया गया। तुम पूरी तरह से निडर होकर अपने मार्ग पर चले जा रहे थे। अब तुम भी हमारे साथ अपने जिंदगी को आराम से जिओ।

दोस्तों जब हम भी अपने जीवन में कुछ नया करने जाते है तो गाँव वालो की तरह हर व्यक्ति हमे डराने के लिए आगे बढ़ जाता है और हमे पूरी तरह से डराने का प्रयाश करता है। यदि हम दुसरो के बातो में आकर डर जाते है तो हम अपने जीवन में कभी आगे नहीं बढ़ सकते। जीवन में इतिहास रचने के लिए आत्मनिर्णय लेना अति आवश्यक है।

 

“जीवन में एक बार जो फैसला कर लो तो फिर पीछे मुड़कर मत देखना

क्योंकि पलट कर देखने वाले इतिहास नहीं बनाते।”

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*